21 जून / Yoga Day (योग दिवस ) / विश्व संगीत दिवस (World Music Day ) / विश्व हाइड्रोग्राफी दिवस ( World Hydrography Day )

21 जून को ही योग दिवस (Yoga Day) क्यों मनाया जाता है ?

भारतीय संस्कृति के अनुसार, ग्रीष्म संक्रांति के बाद सूर्य दक्षिणायन हो जाता है। 21 जून साल का सबसे बड़ा दिन माना जाता है। इस दिन सूर्य जल्दी उदय होता है और देर से ढलता है, इसीलिए ही 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। 

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस इतिहास :- हर साल 21जून (21 June) को पूरी दुनिया अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) मनाती है। आज से छह साल पहले 2015 में पहली बार मनाया गया था।  इस साल दुनिया छठा योग दिवस मना रही है। 

11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस या विश्व योग दिवस के रूप में मनाए जाने को मान्यता दी गयी। इस घोषणा के बाद अगले साल यानी 2015 से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पूरी दुनिया में मनाया जाने लगा था। 

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2020 थीम है :- घर में रहते हुए अपने परिवार के साथ योग करना।  

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2020 थीम (International Yoga Day 2020 Theme) :- हर साल की तरह इस साल भी योग दिवस को एक थीम दी गई है।  लेकिन इस साल कोरोनावायरस महामारी यानी कोविड 19 के चलते लोगों को ऐसी थीम दी गई है, जो सेहत और स्वस्थ्य को बढ़ावा देगी।  

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2015 की थीम थी : सद्भाव और शांति के लिए योग (Yoga for Harmony and Peace)
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2016 की थीम थी : युवाओं को कनेक्ट करें (Connect the youth)
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2017 की थीम थी : स्वास्थ्य के लिए योग (Yoga for Health)
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2018 की थीम थी : शांति के लिए योग (Yoga for Peace)
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2019 की थीम थी : योगा फॉर हार्ट (Yoga for Heart)
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2020 की थीम है : घर पर योग, परिवार के साथ योग (Yoga at Home and Yoga with Family)

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का महत्व :- हर साल 21 जून को मनाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का स्वस्थ जीवन पानी की दिशा में बहुत महत्व है. योग को प्राचीन भारतीय कला का एक प्रतीक माना जाता है। 

भारतीय योग को Life  में सकारात्मकता और ऊर्जावान बनाए रखने के लि‍ए महत्वपूर्ण मानते हैं, इस दिन को मनाने का उद्देश्य योग के प्रति लोगों में जागरुकता पैदा करना है।  Yoga Day  का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है क्योंकि यह जीवन को stress दूर करने  में मददगार हो सकता है। 


21 जून को विश्व संगीत दिवस ( World Music Day ) क्यों मनाया जाता है ?

विश्व संगीत दिवस  को ‘फेटे डी ला म्यूजिक’  के नाम से भी जाना जाता है। इसका अर्थ म्यूजिक फेस्टिवल है।

उद्देश्य :- इसको मनाने का उद्देश्य अलग-अलग तरीक़े से संगीत का प्रचार करने के अलावा विशेषज्ञ व नए कलाकारों को एक मंच पर लाना है। पहली बार 21 जून सन् 1982 को फ्रांस में मनाया गया।

अन्य जानकारी 'विश्व संगीत दिवस' कुल 17 देशों में ही मनाया जाता है, इसमें भारत, आस्ट्रेलिया, बेल्जियम, ब्रिटेन, लक्समवर्ग, जर्मनी, स्विट्जरलैंड, कोस्टारीका, इजाराइल, चीन, लेबनाम, मलेशिया, मोरक्को, पाकिस्तान, फ़िलीपींस, रोमानिया और कोलम्बिया शामिल हैं।

संगीत की विभिन्न खूबियों की वजह से ही विश्व में संगीत के नाम एक दिन है। यह संगीतज्ञों व संगीत प्रेमियों के लिए बहुत ही खुशी की बात है। इसको मनाने का उद्देश्य अलग-अलग तरीके से म्यूजिक का प्रोपेगैंडा तैयार करने के अलावे एक्सपर्ट व नए कलाकारों को एक मंच पर लाना है।

संगीत समारोह:-विश्व में सदा ही शांति बरकरार रखने के लिए ही फ़्राँस में पहली बार 21 जून सन् 1982 में प्रथम विश्व संगीत दिवस मनाया गया। इससे पूर्व अमेरिका के एक संगीतकार योएल कोहेन ने 1976 में इस दिवस को मनाने की बात की थी। 

विश्व संगीत दिवस कुल 17 देशों में ही मनाया जाता है इसमें भारत, आस्ट्रेलिया, बेल्जियम, ब्रिटेन, लक्समवर्ग, जर्मनी, स्विट्जरलैंड, कोस्टारीका, इजाराइल, चीन, लेबनाम, मलेशिया, मोरक्को, पाकिस्तान, फ़िलीपींस, रोमानिया और कोलम्बिया शामिल हैं।

विश्व संगीत दिवस के अलावा इसे सगीत समारोह के रूप में भी जाना जाता है। यह एक तरह से संगीत त्यौहार है, जिसे सारे देश में अलग-अलग तरीकों से मनाया जाता है। भारत में इस अवसर पर कहीं संगीत प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है तो कहीं संगीत से भरे कार्यक्रम की प्रस्तुति की जाती है।


21 जून को विश्व हाइड्रोग्राफी दिवस ( World Hydrography Day ) क्यों मनाया जाता है ?

इस दिन को इंटरनेशनल हाइड्रोग्राफिक ऑर्गेनाइजेशन (IHO) द्वारा हाइड्रोग्राफर्स के काम और हाइड्रोग्राफी के महत्व को प्रचारित करने के लिए एक वार्षिक उत्सव के रूप में अपनाया गया था। यह सुरक्षित नेविगेशन और समुद्री जीवन सुरक्षा के संरक्षण के बारे में जागरूकता भी बढ़ाता है।

प्रारम्भ :- विश्व हाइड्रोग्राफी दिवस मोनाको - आधारित अंतर्राष्ट्रीय हाइड्रोग्राफिक संगठन (IHO) की पहल पर मनाया जाता है।

अंतर्राष्ट्रीय हाइड्रोग्राफिक संगठन (IHO) :- अंतर्राष्ट्रीय हाइड्रोग्राफिक संगठन (IHO) अंतर्राष्ट्रीय हाइड्रोग्राफिक ब्यूरो (IHB) था जिसे 1921 में स्थापित किया गया था। IHB (1970 में IHO का नाम बदलकर) सुरक्षित नेविगेशन, तकनीकी मानकों और सुरक्षा जैसे मामलों पर सरकारों के बीच परामर्श के लिए एक तंत्र प्रदान करने के लिए स्थापित किया गया था। 

विश्व हाइड्रोग्राफी दिवस का इतिहास:- 2005 में  संयुक्त राष्ट्र महासभा ने हर 21 जून को विश्व हाइड्रोग्राफी दिवस मनाने का संकल्प अपनाया। विश्व हाइड्रोग्राफी दिवस के बारे में वैश्विक समारोह 2006 में शुरू हुआ।

इस दिन को हाइड्रोग्राफी के बारे में सार्वजनिक जागरूकता बढ़ाने के लिए एक अवसर के रूप में देखा जाता है जो सभी के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

उद्देश्य:- अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर IHO के कार्य को प्रचार प्रदान करने के लिए और सभी देशों से IHO के साथ काम करने के लिए सुरक्षित नेविगेशन और समुद्री जीवन की सुरक्षा को बढ़ावा देने का अनुरोध करता है।

' विश्व हाइड्रोग्राफी दिवस 2020 ' थीम:- विश्व हाइड्रोग्राफी दिवस 2020 का विषय "स्वायत्त प्रौद्योगिकियों को सक्षम करने वाला हाइड्रोग्राफी" है। 
 
धन्यवाद !!!

Post a Comment

0 Comments